जाने पंडित कपिल शर्मा जी से आज का पंचांग और जाने क्या कहती हैं आपकी राशि – Astrologysupport.com

19 June 2016 Hindu Panchang

Continue reading “जाने पंडित कपिल शर्मा जी से आज का पंचांग और जाने क्या कहती हैं आपकी राशि – Astrologysupport.com”

Advertisements

1 June 2016 to 30 June 2016 Hindu Festival – Astrologysupport.com

Date Day Festival
1-Jun-16 Wednesday Apara Ekadashi.
2-Jun-16 Thursday Pradosh Vrat.
3-Jun-16 Friday Masik Karthigai, Masik Shivaratri.
4-Jun-16 Saturday Vat Savitri Vrat, Darsha-Bhavuka Amavasya.
5-Jun-16 Sunday Jyeshtha Amavasya, Rohini Vrat, Shani Jayanti.
6-Jun-16 Monday Chandra Darshan.
7-Jun-16 Tuesday Maharana Pratap Jayanti.
8-Jun-16 Wednesday Vinayaka Chaturthi.
10-Jun-16 Friday Skanda Sashti.
12-Jun-16 Sunday Dhumavati Jayanti, Masik Durgashtami.
13-Jun-16 Monday Mahesh Navami.
14-Jun Tuesday Mithuna Sankranti, Ganga Dussehra.
16-Jun-16 Thursday Gayatri Jayanti,  Ramalakshmana Dwadashi, Nirjala Ekadashi.
17-Jun-16 Friday Pradosh Vrat.
19-Jun-16 Sunday Vat Purnima Vrat.
20-Jun-16 Monday Jyeshtha Purnima, Kabirdas Jayanti, Purnima Upavas.
21-Jun-16 Tuesday  Longest Day of Year.
23-Jun-16 Thursday Sankashti Chaturthi.
27-Jun-16 Monday Kalashtami.
30-Jun-16 Thursday Yogini Ekadashi.

28 may 2016 Hindu Panchang – Astrologysupport.com

Aaj ka panchang 28 may 2016

Year: Durmukhi (1938)8 September 2015 Panchang

Ayanam: Uttarayana

Ritu: Grishma

Week: Saturday

Month: Vaishakha

Paksha: Krishna Paksha

Tithi: Shashthi 7:08 am

Nakshatra: Dhanishta 3:56 am+

Yoga: Aindra 9:25 pm

Karana: Vanija 7:08 am, Vishti/Bhadra 6:47 pm

Varjya: 7:58 am – 9:34 am

Durmuhurth: 5:42 am – 6:34 am, 6:34 am – 7:26 am

Rahukal: 8:57 am – 10:35 am

Yamaganda: 1:51 pm – 3:29 pm

Amritakaal: 5:33 pm – 7:09 pm

Gulika: 5:42 am – 7:20 am

Sunrise: 5:42 am

Sunset: 6:44 pm

Solar Zodiac: Vrishabha

Lunar Zodiac: Kumbha 4:01 pm

unnamed

 

22 MAY 2016 HINDU PANCHANG – Astrologysupport.com

Year: Durmukhi (1938)

Ayanam: Uttarayana

Ritu: Grishma

Week: Sunday

Month: Vaishakha

Paksha: Krishna Paksha

Tithi: Prathama 4:26 am+

Nakshatra: Anuraadha 9:33 pm

Yoga: Shiva 1:23 am+

Karana: Balava 3:38 pm, Kaulava 4:26 am+

Varjya: 3:38 am+ – 5:22 am+

Durmuhurth: 4:58 pm – 5:50 pm

Rahukal: 5:05 pm – 6:42 pm

Yamaganda: 12:12 pm – 1:50 pm

Amritakaal: 10:07 am – 11:53 am

Gulika: 3:27 pm – 5:05 pm

Sunrise: 5:43 am

Sunset: 6:42 pm

Solar Zodiac: Vrishabha

Lunar Zodiac: Vrishchika

love advice for GF - BF

काली पूजा के 10 चमत्कार रहस्य – Astrologysupport.com

Bhadrakali-jyotish-darbar

  • * लंबे समय से चली आ रही बीमारी दूर हो जाती हैं।
  • * जीवनसाथी या किसी खास मित्र से संबंधों में आ रहे तनाव को दूर करती हैं।
  • * कर्ज से छुटकारा दिलाती हैं।
  • * ऐसी बीमारियां जिनका इलाज संभव नहीं है, वह भी काली की पूजा से समाप्त हो जाती हैं।
  • * हर तरह की बुरी आत्माओं से माता काली रक्षा करती हैं।
  • *पितृदोष और कालसर्प दोष जैसे दोषों को दूर करती हैं।
  • * बिजनेस आदि में आ रही परेशानियों को दूर करती हैं।
  • * बेरोजगारी, करियर या शिक्षा में असफलता को दूर करती हैं।
  • * कारोबार में लाभ और नौकरी में प्रमोशन दिलाती हैं।
  • * हर रोज कोई न कोई नई मुसीबत खड़ी होती हो तो काली इस तरह की घटनाएं भी रोक देती हैं।
  • * शनि-राहु की महादशा या अंतरदशा, शनि की साढ़े साती, शनि का ढइया आदि सभी से काली रक्षा करती हैं।
  • * काली के पूजक पर काले जादू, टोने-टोटकों का प्रभाव नहीं पड़ता।

जानिए काली माता को खुश करने का पहला उपाय…CLick here

जाने कैसा होगा आपका करियर और क्या आप अपना बिज़नस कर सकते हैं @8875270809

वैसे तो करियर निर्माण की कई राहें हैं, लेकिन मनचाहे क्षेत्र में करियर निर्माण की राह तलाश करना इतना आसान नहीं है। आज के बदलते परिवेश में अच्छा करियर हासिल करने के लिए कई क्षेत्रों में पारंगत होना पड़ता है और अपनी योग्यताओं को लगातार विकसित करना होता है

CAREER AND BUSINESS Pandit kapil sharma Solve Your Job Problem solution
Working authorities shall be very energetic. However, an acute desire to take a short-term pause will be tangible everywhere – with Sun andMercury both in Gemini. The best period for a temporary vacation will be this weekend. Incongruously, you may presume your email inbox to be overfull during this retro, whether you are in job or trade. Business people may powerfully feel an urge or even a necessity to change their promotion plans/ policies. If there is specific problem disturbing you on the business front, you may select to avail Business Ask a Question – Detailed Guidance to clear your misperception.

With the path of time and all round growth, there have expanded a host of professions that it becomes problematic for us to identify a specific profession to settle down in life. There are many reasons far beyond the control of the individual that outline his/her qualified proclivity. Of course, the atmosphere,training, and the mental inclinations also play a major role in determining your career route.

Business and Profession Yoga in Kundli
Generally, it has been found that entrepreneurs are wealthier and richer than the servicemen. The likelihoods to achieve success and growth are higher in business as related to jobs. This segment provides a person with ample of openings to show his aptitude and receives profits. Due to other welfares of business, a person wishes to do business more rathe than a job. On the one finger, business segments associated with supports while on the other hand, this area requires the potentials of bravery to take a risk and take the challenges. The absence of these potentials may face a huge loss in their business.

Position of Venus in Third House
If Venus is in the household of wealth and the third house is studying the Kundli, the person is concerned in business. This Yoga gives the person occasion to raise his wealth and prosperity. The third house is the dynasty of courage and daring. If this house is stout in the birth chart, the person is bold and he can take a risk in business. Venus is the sphere of wealth and success, and unrestrained lifestyle. Therefore, due to the auspiciousness of this yoga, the person may run an industry of artistic items or amenity products.

Position of Venus in Second or Eleventh House
When Venus is situated in a second or eleventh house, the person makes profits in business. Also, if Venus is the instant load and located on the third line or forms a relationship with the eleventh house, the monetary condition of the person gets upgraded.

Role of Rahu in Profession
Rahu is reflected as a malefic sphere in the kundali. It is said that the effect of Rahu on any house, sphere or emblem leads to malefic belongings.Rahu is censured for its adverse effects, due to which, people often overlook its optimistic effects. Association of Rahu and Ketu sanctifies the person with practical knowledge. When these two spheres form a rapport with tenth house/tenth noble or eleventh house, the technical familiarity of the person gets improved. When Mars and Ketu form a connection, the person has the knowledge of active technology. Saturn gives the person information of machines. The positive effect of Venus gives the person knowledge to strategy machine. The influence of Saturn on Ascendant house delivers the person with the qualities of mind-reading, in-depth information, and aptitude to make plans.

Astrologysupport.com 24*7 Online for help just call now

Astrology Support

Address :- Plot No. 9, Shyam Nagar ,Jaipur,Rajasthan

Mobile No:- +91 7891464004 , 8875270809

Email Id :- help.astrologer@gmail.com

web :- http://astrologysupport.com/

                    

 

सदी के दूसरे सिंहस्थ का द्वितीय शाही स्नान 9 मई को – astrologysupport.com

महाकाल की नगरी उज्जैन में सदी के दूसरे महाकुंभ में द्वितीय शाही स्नान अक्षय तृतीया 9 मई को होगा। इसमें  करीब 15 लाख से ज्यादा श्रद्धालु मोक्ष दायिनी शिप्रा में आस्था और विश्वास की डुबकियां लगाएंगे। शाही स्नान प्रात: 4 बजे से शैव अखाड़ों के नागा सन्यासियों के स्नान से प्रारंभ होगा। 

जाने सिंहस्थ कुम्भ महापर्व का महत्व @08875270809

kumbh mela 2016.

दत्त अखाड़ा घाट एवं रामघाट पर शाही स्नान में सुबह 4 बजे से 12.40 बजे तक निर्धारित क्रमानुसार विभिन्न अखाड़ों के साधु, संत स्नान करेंगे। रविवार को उज्जैन आने वाले कई रास्तों पर लंबा जाम भी देखा गया। इंदौर से हजारों लोगों का उज्जैन पहुंचने का सिलसिला लगातार जारी है।
स्थानीय प्रशासन द्वारा शाही स्नान के लिए सभी आवश्यक व्यवस्थाएं एवं प्रबंध सुनिश्चित कर लिए गए हैं।  एडीजी मधु कुमार ने कहा कि स्नान के दौरान अखाड़ों के आगे-पीछे, दाएं और बाएं  घाटों पर पर्याप्त संख्या में पुलिस और पैरामिलेट्री बल के जवान तैनात रहेंगे। भीड़ प्रबंधन और यातायात व्यवस्था भी सुनियोजित होगी।
मधु कुमार के अनुसार शाही स्नान के लिए जुलूस मार्ग की धुलाई, चूने की लाइनिंग, मार्ग पर पानी का छिड़काव एवं घाटों पर स्नान के लिए पहुँचे साधु-संतों का परम्परागत तरीके से स्वागत एवं सत्कार किया जाएगा। शाही स्नान के लिए सभी अखाड़ों के स्नान-क्रम और घाटों पर आने-जाने के लिए मार्ग निर्धारित किए गए हैं।
शैव अखाड़े के स्नान के लिए क्रम एवं समय निर्धारित
श्री पंच दशनाम जूना अखाड़ा : यह अखाड़ा स्नान के लिए भूखी माता स्थित छावनी से जुलूस के रूप में प्रात: 3.20 रवाना होकर 4 बजे दत्त अखाड़ा घाट पर पहुँचेगा। स्नान के बाद प्रात: 5 बजे घाट खाली कर प्रात: 5.45 बजे पुन: अपनी छावनी पहुँचेगा।
जूना अखाड़ा के साथ हनुमान गढ़ी के पास से आवाहन एवं अग्नि अखाड़े बड़नगर रोड होते हुए भूखी माता मार्ग पर जूना अखाड़े के जुलूस में शामिल होकर स्नान के लिए प्रात: 4 बजे दत्त अखाड़ा पर पहुँचेंगे और स्नान कर प्रात: 5 बजे घाट खाली करेंगे। स्नान के बाद ये अखाड़े दत्त अखाडा से वापस भूखी माता मार्ग होते हुए बड़नगर मार्ग से वापस अपने कैम्प में पहुँचेंगे।
श्री तपोनिधि निरंजनी अखाड़ा एवं श्री पंचायती आनंद अखाड़ा : श्री निरंजनी अखाड़ा एवं पंचायती आनंद अखाड़ा बड़नगर रोड स्थित अपनी छावनी से निकलकर शंकराचार्य चौक से छोटी रपट, दत्त अखाड़ा घाट पहुँचकर प्रात: 5 बजे स्नान करेंगे और प्रात: 6 बजे घाट खाली कर प्रात: 6.45 बजे पुन: उसी मार्ग से अपनी छावनी में पहुँचेंगे।
श्री पंचायती महानिर्वाणी अखाड़ा एवं पंच अटल अखाड़ा : श्री पंचायती महानिर्वाणी अखाड़ा एवं पंच अटल अखाड़ा बड़नगर रोड छावनी से शंकराचार्य चौक होते हुए छोटी रपट, केदारघाट एवं दत्त अखाड़ा घाट पर पहुँचकर प्रात: 6 बजे स्नान करेंगे और प्रात: 7 बजे घाट खाली कर 7.45 बजे पुन: इसी मार्ग से अपनी छावनी में पहुँचेंगे। वैष्णव अखाड़ों का स्नान क्रम, समय एवं मार्ग
श्री निर्वाणी अणि अखाड़ा : यह अखाड़ा मंगलनाथ केम्प से खाक चौक, कंठाल,गोपाल मंदिर, गुदरी चौक, रामानुज कोट होते हुए प्रात: 7 बजे रामघाट पहुंचेगा। स्नान के बाद प्रात: 8 बजे घाट खाली कर प्रात: 9.30 बजे पुन: अपनी छावनी में पहुँचेंगे।
श्री दिगम्बर अणि अखाड़ा : श्री दिगम्बर अणि अखाड़ा मंगलनाथ छावनी से खाक चौक, कंठाल, गोपाल मंदिर, गुदरी चौक, रामानुज कोट होते हुए प्रात: 8 बजे रामघाट पहुँचेगा। स्नान के बाद प्रात: 9 बजे घाट खाली कर प्रात: 10.30 बजे पुन: अपनी छावनी में पहुँचेंगे।
श्री निर्मोही अणि अखाड़ा : श्री निर्मोही अणि अखाड़ा मंगलनाथ छावनी से खाक चौक, कंठाल,गोपाल मंदिर, गुदरी चौक, रामानुज कोट होते हुए प्रात: 9 बजे रामघाट पहुँचेगा। स्नान के बाद प्रात: 10 बजे घाट खाली कर प्रात: 11.30 बजे पुन: अपनी छावनी में पहुँचेगा।
उदासीन एवं निर्मल अखाड़े का स्नान क्रम समय एवं मार्ग निर्धारित : श्री पंचायती बड़ा उदासीन अखाड़ा छोटी रपट, दानी गेट, मोढ़ की धर्मशाला, गणगौर दरवाजा, बड़ा उदासीन अखाड़े के सामने से बम्बई धर्मशाला होते हुए प्रात: 10.30 बजे रामघाट पहुँच कर स्नान करेगा और 11.30 बजे घाट खाली कर इसी रास्ते से वापस अपने अखाड़े में पहुँचेगा।
श्री पंचायती नया उदासीन अखाड़ा : यह अखाड़ा बड़नगर स्थित छावनी से शंकराचार्य चौराहा, छोटी रपट होते हुए रामघाट 10.30 बजे पहुँचेगा और स्नान कर 11.30 बजे घाट खाली कर पुन: इसी मार्ग से वापस 12.30 बजे अपनी छावनी जाएगा।
श्री निर्मल अखाड़ा बड़नगर रोड : यह अखाड़ा बड़नगर स्थित छावनी से रवाना होकर छोटी रपट पर नए  उदासीन अखाड़े के जुलूस के वापस निकल जाने के बाद 11.10 बजे वहाँ से रवाना होकर 11.40 बजे रामघाट पहुँचकर स्नान करेगा। इसी मार्ग से वापसी करते हुए दोपहर 1.30 बजे पुन: छावनी पहुँचेगा।
सभी महामण्डलेश्वर एवं खालसे जुलूस में शामिल अपने-अपने अखाड़ों के साथ ही स्नान करेंगे। अलग से कोई भी स्नान नहीं करेंगे। वाहन चालक अपने वाहन पर ही रहेंगे ताकि स्नान करने के बाद महामण्डलेश्वर एवं अन्य संत शीघ्रता से रवाना हो सके। अखाड़े में जो वाहन शामिल होंगे उन्हें अलग से पास जारी किया जाएगा। अनाधिकृत वाहन जुलूस में शामिल नहीं हो सकेंगे।
जुलूस में शामिल होने वाले सभी साधु-संतगण एवं भक्तों को कोई गमछा या परिचय-पत्र अखाड़े द्वारा प्रदाय किया जाएगा, जिससे सुनिश्चित हो सके कि जुलूस में संबंधित अखाड़े के साधु-संत और भक्त ही शामिल है। अखाड़ों के लिए निर्धारित समय में रामघाट व दत्त अखाड़ा घाट पर आम श्रद्धालुओं का स्नान के लिए प्रवेश प्रतिबंधित रहेगा। अखाड़ों के स्नान के बाद ही आम श्रद्धालु इन घाटों पर स्नान के लिए पहुंच सकेंगे।
copyright by – webdunia
unnamed