इन मंत्रों का जप करने से माँ वैष्णो देवी होती हैं प्रसन्न – astrologysupport.com

इस मंत्र का उच्चारण करते हुए माता वैष्णो देवी को जल अर्पित किया जाता है –

ॐ सर्वतीर्थ समूदभूतं पाद्यं गन्धादि-भिर्युतम्।
अनिष्ट-हर्ता गृहाणेदं भगवती भक्त-वत्सला।।
ॐ श्री वैष्णवी नमः।
पाद्योः पाद्यं समर्पयामि।

इस मंत्र से माता वैष्णो देवी को दक्षिणा अर्पित करते हैं-

हिरण्यगर्भ-गर्भस्थं हेम बीजं विभावसोः।
अनन्तं पुण्यफ़ल दमतः शान्ति प्रयच्छ मे।।

माता वैष्णो देवी का स्मरण करते हुए इस मंत्र के साथ उन्हें चंदन अर्पित किया जाता है-

ॐ श्रीखण्ड-चन्दनं दिव्यं गन्धाढ्यं सुमनोहरम्।
विलेपन मातेश्वरी चन्दनं प्रति-गृहयन्ताम्।।

इस मंत्र के द्वारा माता वैष्णो देवी को दही अर्पित किया जाता है –

पयस्तु वैष्णो समुद-भूतं मधुराम्लं शशि-प्रभम्।
दध्या-नीतं मया स्नानार्थ प्रति-गृहयन्ताम्।।

मां वैष्णो देवी को वस्त्र समर्पित करने का मंत्र

शीत-शीतोष्ण-संत्राणं लज्जाया रक्षणं परम्।
देहा-लंकारण वस्त्रमतः शान्ति प्रयच्छ मे।।

इस मंत्र को पढ़ते हुए माता वैष्णो देवी को पुष्पमाला समर्पण करना चाहिए-

माल्या दीनि सुगन्धीनि माल्यादीनि वै देवी।
मया-हृताणि-पुष्पाणि गृहायन्ता पूजनाय भो।।

माता वैष्णो देवी के स्मरण एवं पूजन में उनका आह्वान इस मंत्र के द्वारा किया जाता है-

ॐ सहस्त्र शीर्षाः पुरुषः सहस्त्राक्षः सहस्त्र-पातस-भूमिग्वं सव्वेत-स्तपुत्वा यतिष्ठ दर्शागुलाम्।
आगच्छ वैष्णो… Read more at: http://hindi.webdunia.com/navratri-special/vaishno-devi-mantra-in-hindi-116100700042_1.html

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s